8 महीने के बच्चे को सड़क पर लाकर माँ ने दे दी मौत, काटा कुल्हाड़ी से

 आजकल अपराध के बढ़ते मामले सभी को हैरान कर रहे हैं। ऐसे में जो मामला हाल ही में सामने आया है वह सभी को हैरान कर रहा है। यह मामला ग्राम चुरारी का है जहाँ एक मां ने दरिंदगी की सारी हदें पार कर दीं। जी दरअसल माँ ने अपने 8 महीने के मासूम इकलौते बेटे को कुल्हाड़ी से मारकर मौत के घाट उतार दिया है। बताया जा रहा है सबसे पहले महिला मासूम को घर से करीब 70 फीट दूर मुख्य सड़क पर ले गई। उसके बाद माँ ने बेटे को लेटा दिया और कुल्हाड़ी से बच्चे की गर्दन अलग कर दी। यह घटना बीते शनिवार सुबह 11 बजे हुई है और इस घटना के बारे में जैसे ही जानकारी पुलिस को लगी तो उन्होंने जाँच शुरू की।

इस मामले के बारे में जानकारी मिली है कि बच्चे की नानी उसे कपड़े में लपेटकर चंदेरी अस्पताल गई और उसने डॉक्टरों से झूठ कहा। नानी ने कहा कि ‘बच्चा छत से गिर गया है। ‘ वहीं उसके बाद बच्चे की नब्ज देखकर डॉक्टर ने उसे मृत बता दिया। अब इस मामले के बारे में पुलिस का कहना है कि मां की मानसिक हालत ठीक नहीं है। बताया जाता है कि महिला एक संत से प्रभावित थी और उनके यू-ट्यूब पर प्रवचन सुनती रहती थी। पुलिस ने इस मामले के बारे में जानकारी देते हुए कहा है कि रश्मि पत्नी लक्ष्मण लोधी की शादी 2 साल पहले हुई थी। शादी के बाद रश्मि पति के साथ इंदौर में रहती थी, लेकिन, ढाई महीने पहले बेटे यशराज के साथ मायके चुरारी आई थी।

यहाँ वह अपनी मां और बहनों के साथ रह रही थी। बीते शनिवार को उसकी बहन बच्चे को खिला रही थी लेकिन तभी अचानक महिला ने उससे अपना बेटा लिया और सड़क पर ले जाकर गला काट दिया। इस मामले के बारे में रश्मि की छोटी बहन ने बताया, ‘रश्मि मुझसे लेकर उसे खिलाते हुए बाहर चली गई। कुछ देर बाद चिल्लाते हुए घर के अंदर आई और कहने लगी बकरा काट दिया। जब मैं बाहर गई तो यशराज खून से लथपथ था। उसे उठाकर अंदर लाई और उससे पूछा ये क्या किया तो कहने लगी जिसका बकरा था उसने ले लिया। इसके बाद मैंने मां लाडकुंवर को इसकी जानकारी दी। मां दोपहर को उसे चंदेरी अस्पताल ले गई।’