Chhattisgarh: 16 वर्षीय लड़की को 3000 रुपए में बेचा, 2 साल तक हुआ रेप, प्रेग्नेंट हुई तो सड़क पर छोड़ा

 छत्तीसगढ़ के रायगढ़ से अब एक बेहद हैरान करने वाला मामला सामने आ रहा है। करीब 6 महीने की काउंसलिंग के बाद 18 वर्ष की एक लड़की को सामान्य अवस्था में लाया गया जिसके बाद उसने अपने साथ हुई वीभत्स घटना की आपबीती सुनाई है। उसने बताया कि किस तरह उसे उसके बाप ने 3000 रुपए में उसे बेच दिया था फिर दो सालों तक अलग-अलग लोगों ने उसका रेप किया। अंत में वह प्रेग्नेंट हो गई। 5 महीने की फुल प्रेग्नेंसी में अब जाकर उसका रेस्क्यू कराया गया।

minor raped in chhattisgarh

उसके बाप ने 21 वर्षीय एक युवक के हाथों उसे बेच दिया था। उसने उसे घरेलू नौकरानी की तरह 3000 रुपए में खरीदा था लेकिन इसके बजाय वह उसका रेप करने लगा। कई महीने के बाद वह प्रेग्नेंट हो गई। प्रेग्नेंट होने पर आरोपी ने उसे सड़कों पर छोड़ दिया। पीड़िता भूखी प्यासी और पेट में बच्चा लिए इधर से उधर भटकने लगी। आने-जाने वाले राहगीरों से उसने कई बार मदद की भीख मांगी लेकिन किसी ने उसकी एक नहीं सुनी।

कोविड-19 के भय से किसी ने उसे हाथ तक नहीं लगाया। किस्मत से कुछ सामाजिक कार्यकर्ताओं की नजर उस पर पड़ी जिसके बाद उसे रेस्क्यू किया गया। इस समय तक उसकी प्रेग्नेंसी की समय पूरी हो चुकी थी और वह डिलीवरी करने वाली थी। उसने एक स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया लेकिन वह बुरी तरह से घबराई हुई थी कि वह अपनी आपबीती बताने में भी सक्षम नहीं हो पा रही थी।

पहले बिलासपुर के अस्पताल में उसका इलाज कराया गया जिसके बाद उसे पिछले महीने वन स्टॉप सेंटर ‘सखी’ में ले आया गया। पुलिस को दिए शिकायत में उसने बताया कि उसकी मां की मौत के बाद उसके बाप ने उसे 3000 रुपए में बेच दिया था। सौदा इस बात पर हुआ था कि वह उसे अपने घर पर कामवाली की तरह रखेगा लेकिन उसने उसका रेप करना शुरू कर दिया।

उसके साथ इतनी बुरी तरीके से यौन शोषण किया गया था कि उसे पता भी नहीं चला कि कब और किस हालत में उसे शहर की सड़क पर फेंक दिया गया था। लेकिन उसे इतना आइडिया था कि वह तब प्रेग्नेंट थी। पुलिस के मुताबिक पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया गया है और आरोपी की तलाश की जा रही है।