CORONA: थाने में फोन कर कहा रसगुल्ले चाहिए, अधिकारी लेकर पहुंच गये!

बुजुर्ग ने पुलिस को फोन कर दिया. फोन पर कहा कि बेटा-बहू परिवार के साथ अमेरिका में रहते हैं, मैं अकेला हूं, बेचैन हूं, शूगर लेवल गिरा हुआ है. संकोच के साथ कह रहा हूं कि रसगुल्ले चाहता हूं.

कोरोना बंद के इस दौर में कुछ मजेदार मामले भी सामने आ रहे हैं. ऐसा ही एक मामला राजधानी के हजरतगंज इलाके में सामने आया, जहां एक बुजुर्ग ने रसगुल्ले की मांग कर दी. पुलिस अधिकारियों ने भी इस चाहत की लाज रखी.कुछ बंद की बंदिश थी, कुछ मन का मचलना और कुछ बीमार शरीर की जरूरत. हजरतगंज इलाके के एक फ्लैट में अकेले रहने वाले बुजुर्ग ने पुलिस को फोन कर दिया. फोन पर कहा गया कि बेटा-बहू परिवार के साथ अमेरिका में रहते हैं, मैं अकेला हूं, बेचैन हूं, शूगर लेवल गिरा हुआ है, संकोच के साथ कह रहा हूं कि रसगुल्ले चाहता हूं.88 साला वरिष्ठ नागरिक की यह चाहत हजरतगंज इंस्पेक्टर संतोष सिंह को बताई गई. संतोष सिंह ने एक चिकित्सक की राय ली. परिचित मिठाई दुकानदार से गुजारिश की और रसगुल्ले लेकर बुजुर्ग के पास जा पहुंचे.बुजुर्ग हैरान भी थे, भावुक भी. बोल पड़े कि अगर आप न आते तो हालत बिगड़ जाती.संतोष सिंह भी बोल पड़े जब जरूरत हो आदेश कीजिएगा.गौरतलब है कि COVID-19 के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने 25 मार्च से 21 दिन के कंप्लीट लॉकडाउन का ऐलान किया था. राजधानी में भी इसका असर दिख रहा है.इस बंदी का असर उन पर ज्यादा पड़ रहा है जो अकेले रहते हैं और बीमार हैं.