COVID-19: कोरोना के 11 मरीजो को स्वस्थ करने वाली डॉक्टर की अपील, नही ले यह मास्क

वैश्विक महामारी बन चुके कोरोनावायरस से भारत भी जूझ रहा है और यहां भी इसका समुचित इलाज किया जा रहा है और कोरोनावायरस पीड़ित मरीज स्वस्थ भी हो रहे हैं। ऐसा ही 11 कोरोनावायरस पीड़ित मरीजों को स्वस्थ करने वाली डॉक्टर जो गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल के डॉक्टर सुशीला कटारिया है जो कोरोना पीड़ित 14 मे से 11 को स्वस्थ कर चुकी है और उन्होंने एक संदेश दिया है देश के नागरिकों के लिए।
मेदांता अस्पताल के डॉक्टर सुशिला कटारिया ने दिनरात कोरोनावायरस पीड़ित मरीजों का इलाज किया जोइटली से आए पर्यटकों में मिला था जो राजस्थान की सैर कर रहे थे. इनमें से 14 को गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां उन्होंने ग्यारह मरीजों का सफल इलाज किया और सुर्खियों में आ गई है।
डॉक्टर कटारिया कहती हैं कि जो लोग देश में एन95 मास्क लगाकर घूम रहे हैं वो इस मास्क को न ख़रीदें और इससे स्वास्थ्य कर्मियों की ज़रूरतों को पूरा करने के लिए छोड़ दें। आम लोगों को ये मास्क लगाने की ज़रूरत नहीं है। यह मास्क स्वास्थ्य कर्मियों के लिए उपयोगी है क्योंकि वह कोरोनावायरस पीड़ित मरीजों के साथ होते हैं और सबसे सुरक्षित यह मास्क होता है।