School Reopening: सोमवार से किन राज्यों में खुलेंगे स्कूल और कहां रहेंगे बंद, जानिए नियम और पूरी गाइडलाइन्स

: कोरोना काल में देश में अनलॉक-4 (Unlock-4) लागू है। इसी के तहत सोमवार यानी 21 सितंबर से कुछ राज्यों ने स्कूलों को पांच महीने के बाद खोलने का फैसला किया है। (School Reopening Update) सोमवार से कई राज्यों में 9वीं से 12वीं तक के छात्रों के लिए स्कूल खुलेंगे। केंद्र सरकार ने अनलॉक प्रक्रिया के चौथे चरण में स्कूलों को खोलने की अनुमति दी है। केंद्र सरकार ने कहा है कि कक्षा 9वीं से 12वीं के छात्र पने माता-पिता से लिखित सहमति मिलने के बाद स्कूल जा सकते हैं। सरकार ने स्कूल में 50 प्रतिशत स्टाफ और छात्राओं को बुलाने की इजाजत दी है। लेकिन अंतिम फैसला केंद्र सरकार ने राज्य सरकार के ऊपर छोड़ा है। यानी राज्य सरकार ये तय करेंगी कि उन्हें अपने राज्य के स्कूलों को खोलना है या नहीं।

School

School Reopen Latest Update: इन राज्यों में 21 सितंबर से नहीं खुलेंगे स्कूल

दिल्ली, गुजरात, केरल, महाराष्‍ट्र, उत्तर प्रदेश, झारखंड, उत्तराखंड और पश्चिम बंगाल की सरकार ने घोषणा की है कि वे सोमवार (21 सितंबर) से स्कूल नहीं खोलेंगे। वहीं महाराष्‍ट्र में भी 30 सितंबर तक स्‍कूल बंद हैं। गुजरात सरकार ने दिवाली तक स्‍कूल बंद रखने का फैसला किया है। झारखंड में भी 30 सितंबर तक स्‍कूल बंद हैं।

दिल्ली सरकार ने 5 अक्टूबर तक सभी स्कूलो- कॉलेज को बंद रखने का आदेश दिया है। सरकार ने कहा है कि इस बीच पहले की तरह ऑनलाइन क्लास के माध्य्म से पढ़ाई जारी रहेगी।

School Reopen: इन राज्यों में 21 सितंबर से खुलेंगे

आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) में 21 सितंबर से स्कूल खोले जा रहे हैं। सरकार की ओर से जारी बयान में बताया गया है कि यहां 50 फीसदी टीचिंग और 50 फीसदी नॉन टीचिंग स्टाफ स्कूल आऐंगे। छात्रों को अपने माता-पिता और अभिभावकों की लिखित सहमति अपने संबंधित स्कूलों में जमा करनी होगी। लेकिन कंन्टेन्मेंट जोन्स (containment zones) वाले बच्चे स्कूल नहीं आएंगे।

असम (Assam) में भी कंन्टेन्मेंट जोन्स के बाहर के 9वीं से 12वीं तक के छात्रों के लिए स्कूल खोले जा रहे हैं। 15 दिनों के बाद स्कूल खुलने को लेकर रिव्यू किया जाएगा, फिर आगे का फैसला लिया जाएगा।

बिहार (Bihar) में अभी साफ नहीं है। लेकिन पटना के डीएम कुमार रवि ने एक आदेश जारी करते हुए कहा है कि कन्टेन्मेंट जोन्स से बाहर 9वीं से 12वीं तक के छात्रों के लिए स्कूल खुलेंगे।

हरियाणा (Haryana) में स्कूल शिक्षा निदेशालय ने सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को पत्र लिखकर बताया है कि सोमवार (21 सितंबर) से कक्षा 9 से 12वीं के छात्रों के लिए स्कूलों के आंशिक रूप से फिर से खोले जाएंगे। जिसके लिए गाइडलाइन भी जारी की गई है।

जम्मू कश्मीर (Jammu and Kashmir) प्रशासन ने21 सितंबर से स्कूलों को वॉलंटरी आधार पर खोलने का फैसला किया है। हालांकि, छात्रों की उपस्थिति स्वैच्छिक आधार पर होगी। अधिकारियों ने कहा है कि स्कूल कर्मचारियों और छात्रों की 50% उपस्थिति के साथ फिर से खुलेंगे और छात्रों की उपस्थिति अभिभावकों की लिखित सहमति के अनुसार होगी।

कर्नाटक (Karnataka) सरकार ने कक्षा 9 से 12वीं तक के स्‍कूल और प्री-यूनिवर्सिटी कॉलेज खोलने पर रोक लगा दी है। हालांकि छात्र स्कूल जा सकते हैं कि लेकिन क्लास नहीं चेलगी।

पंजाब ( Punjab) सरकार ने 21 सितंबर से उच्च शिक्षा संस्थानों को खोलने की अनुमति दी है। जो पीएचडी जैसे कोर्स कर रहे हैं। हालांकि, राज्यों में स्कूल, कॉलेज और कोचिंग सेंटर बंद रहेंगे।

मध्‍य प्रदेश (MP) में आंशिक रूप से स्‍कूल खुलेंगे। क्‍लासेज नहीं चलेंगी।

राजस्‍थान (Rajasthan) में स्‍कूल खुल रहे हैं लेकिन कई प्राइवेट स्‍कूल बंद ही रहेंगे।

इसके अलावा हिमाचल प्रदेश, नगालैंड, मेघालय में भी सोमवार से स्‍कूल खुल रहे हैं। चंडीगढ़ में आंश‍िक तौर पर स्‍कूल खुलेंगे। एक क्‍लास में केवल 15 स्‍टूडेंट्स बैठेंगे।

School Reopening Guidelines: जानिए नियम और गाइडलाइन्स

– सिर्फ वही स्कूल खुलेंगे, जो कंन्टेन्मेंट जोन में नहीं है।

-कंन्टेन्मेंट जोन वाले छात्राओं और शिक्षकों, कर्मचारियों को स्कूल में एंट्री नहीं होगी।

– स्कूल जाने वाले छात्राओं और शिक्षकों, कर्मचारियों को कंन्टेन्मेंट जोन में जाने की अनुमित नहीं होगी।

– स्कूल में 6 फीट की दूरी बनाकर रखनी होगी।

– या मास्क पहनना अनिवार्य है।

– थोड़े देर के गैप में हाथ धोना है या सैनिटाइजर लगाना है।

– छींकते, खांसते समय फेस को कवर करना अनिवार्य है।

-स्कूल कैंपस में कहीं भी थूकने पर मनाही।

-आरोग्य सेतु ऐप का इस्तेमाल करना होगा।

-एंट्री पर थर्मल स्‍क्रीनिंग होगी।

– केवल 50% टीचर्स और स्‍टाफ के साथ स्‍कूल खुलेंगे।