शिवसेना ने चल दी है ऐसी चाल, हर कोई रह गया हैरान

लेटेस्ट न्यूज1: महाराष्ट्र में चल रहे सियासी ड्रामे ने एकाएक दम लिया है और अब शिवसेना ने एक नई चाल चली है शिवसेना ने अपने पसंदीदा नेता आदित्य ठाकरे जिन्होंने की पहली बार चुनाव लड़ा था ठाकरे परिवार में उन्हें सदन का नेता न चुनते हुए एकनाथ शिंदे को नेता चुना, पार्टी के इस फैसले से हर कोई आश्चर्य में है.

जानकारी के लिए बता दें कि एकनाथ शिंदे पहले भी पार्टी के सदन के नेता हैं और फडणवीस सरकार में वह कैबिनेट मंत्री भी थे. एकनाथ शिंदे कोपरी पंचक खाड़ी निर्वाचन क्षेत्र से विधायक चुने गए हैं. एकनाथ शिंदे लगातार तीन बार कोपरी विधानसभा क्षेत्र से विधायक चुने जा चुके हैं.

महाराष्ट्र: आखिरकार मुख्यमंत्री पद की जिद को शिवसेना ने छोड़ा, अब रखा ये प्रस्ताव

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आदित्य ठाकरे के पिता उधव ठाकरे भी अपने बेटे को विधायक दल का नेता चुने जाने के पक्ष में नहीं थे.

वही शिवसेना के दिग्गज नेता सांसद संजय राउत ने कहा कि शिवसेना के बारे में अफवाह फैलाई जा रही है कि शिवसेना बीजेपी के सामने जो गई है ऐसी अफवाह बेबुनियाद है. इसी के साथ उन्होंने कहा कि शिवसेना में फूट की खबरें भी पूर्णत निराधार हैं.

जम्मू कश्मीर में नहीं रहेगा विधायक और मुख्यमंत्री का वह रुतबा, जानें- कौन होगा सीएम से भी ऊपर

बता दें कि कल देवेंद्र फडणवीस को भाजपा के विधायक दल का नेता चुना गया था और आज शिवसेना के विधायक दल का नेता एकनाथ शिंदे को चुना गया है.
संभवत अब देवेंद्र फडणवीस का मुख्यमंत्री बनना तय है.