UP: गन्ने के खेत में बिखरे मिले 2000 और 500 के नोट, लूटने वालों की मच गई होड़

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक गन्ने के खेत में 2000 औऱ 500 के नोट मिलने की खबर सामने आई है. नोट मिलने की बात जैसी ही गांव में फैेली लूटने (Loot) लोगों की भीड़ लग गई.

UP: गन्ने के खेत में बिखरे मिले 2000 और 500 के नोट, लूटने वालों की मच गई होड़

. उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में उस वक्त अफरा-तफरी मच गई जब एक गन्ने के खेत में दो हजार और 500 के नोट बिखरे मिले. नोट मिलने की बात जैसे ही गांव में फैली लोगों हैरान हो गए. नोट बटोरने ग्रामीण खेत की तरफ दौड़ पड़े. कुशीनगर (Kushinagar) के हाटा कोतवाली क्षेत्र के मोहमदा सिकटिया गांव में गन्ने के खेत में 2 हजार और 5 सौ के नोट मिलने से अटकलों का बाज़ार गर्म है. गन्ना काटने गए मजदूरों ने नोट बिखरा देखा जिसके बाद नोट मिलने की सूचना बहुत जल्द गांव में पहुंच गई. इसके बाद बड़ी संख्या में ग्रामीण खेत में पहुंचकर नोट लूटने लगे.

किसी ने नोट मिलने की जानकारी पुलिस को दी जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने खेत में पड़े नोट को कब्जे में लेने के बाद वहां मौजूद ग्रामीणों से भी नोट ले लिया. पुलिस ने लगभग 1.15 लाख रुपया कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दिया है.

मच गई लूट
विज्ञापन
दरअसल, हाटा कोतवाली क्षेत्र के मोहमदा सिकटिया गांव निवासी सीताराम के खेत में गन्ना काटने गए मजदूरों ने फटे कपड़े में कुछ बंधा देखा तो उत्सुकतावश उसे खोलने लगे. मजदूरों ने खोला तो उसमें 5 सौ और 2 हजार के नोट मिले. इसके बाद वहां लूट मच गई. जानकारी होने पर गांव के बहुत लोग पहुंच कर नोट लूटने लगे. रात हो जाने के कारण 112 नंबर पुलिस ने गांव में पहुंचकर नोट सही सलामत रखने का निर्देश दिया. सुबह पहुंचे हाटा कोतवाल जय प्रकाश पाठक ने ग्रामीणों से नोट कब्जे में ले लिया. कोतवाली प्रभारी जय प्रकाश पाठक ने बताया कि में लेने के बाद उसकी जांच कराई जा रही है कि नोट असली हैं या नहीं.

पुलिस कर रही मामले की जांच 

ग्रामीणों के अनुसार कुछ दिन पहले गांव के पास स्थित चौराहे पर किराने की दुकान से लगभग 5 लाख रुपया चोरी हुआ था, चोरों ने चोरी की घटना को अंजाम देने के बाद गन्ने के खेत में ही रुपए छिपा दिया था. ये रुपए शायद वहीं रकम हैं,लेकिन एक सवाल सबके मन में उठ रहा है कि खेत से सिर्फ 1 लाख 15 हजार रुपया बरामद हुआ है . बाकी रकम कहां गया जिसका पता लगाना पुलिस के चुनौती बना हुआ है.
विज्ञापनहाटा कोतवाली प्रभारी जय प्रकाश पाठक ने बताया कि पुलिस कई बिंदुओं पर जांच कर रही है. इतने रुपए खेत में कहां से आए इसकी जांच करने के साथ ही रुपयों की पहचान भी कराई जा रही है.