VIDEO: धोनी ने अंतिम गेंदों पर दिखाया अब भी है दम, दो बार गेंद सड़क पर पहुंचाई

चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने पिछले एक साल से ज्यादा समय से क्रिकेट नहीं खेला था। आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2019 के बाद से वो खेल में सक्रिय नहीं थे। इस बार आईपीएल में वो फिर मैदान पर लौटे लेकिन पहले मुकाबले में मुंबई के खिलाफ वो बैटिंग करने तब पिच पर आए जब उनकी टीम जीतने ही वाली थी। वो शून्य पर नाबाद रहे। लेकिन मंगलवार को राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ शारजाह में उनको बैटिंग करने का मौका और समय मिला। चुनौती उस समय मुश्किल थी लेकिन धोनी फैंस का मनोरंजन किए बिना नहीं गए।

MS Dhoni CSK

चेन्नई की टीम राजस्थान द्वारा दिए गए 217 रनों के विशाल लक्ष्य का पीछा कर रही थी। 14वें ओवर में जब केदार जाधव के रूप में पांचवां विकेट गिरा तब धोनी का नंबर आया। वो मैदान पर आए और शानदार पारी खेल रहे फाफ डु प्लेसिस का साथ देने लगे। वो फाफ डुप्लेसिस को खेलने का मौका दे रहे थे। लेकिन डुप्लेसिस 19वें ओवर की पांचवीं गेंद पर 72 रन बनाकर आउट हो गए। अब टीम को 7 गेंदों में 38 रन चाहिए थे। ये नामुमकिन सा लग रहा था लेकिन धोनी पिच पर थे।

धोनी ने दिखाया अपने बल्ले का दम, हार के बावजूद यादगार ओवर

मैच अंतिम ओवर में पहुंचा और टॉम कुरन गेंदबाजी करने आए। अब धोनी के पास शॉट्स जड़ने के अलावा कोई विकल्प नहीं था। वो सोच चुके थे कि उन्हें कुछ बड़े शॉट्स लगाने हैं और इतने दिन से क्रिकेट ना खेलने की भड़ास भी थी। ऐसा रहा अंतिम ओवर..

पहली गेंदः इस पहली गेंद पर धोनी ने 1 रन लिया।

दूसरी गेंदः इस गेंद पर जडेजा ने 1 रन लिया।

तीसरी गेंद: धोनी ने मिडविकेट दिशा में एक शानदार व लंबा छक्का जड़ दिया

चौथी गेंद: धोनी ने अपने अंदाज में घुटने पर बैठते हुए करारा छक्का जड़ा, गेंद मैदान से बाहर चली गई

पांचवीं गेंदः इस बार गेंदबाज ने बाउंसर फेंकी लेकिन धोनी ने शानदार पुल शॉट जड़ते हुए गेंद को डीप स्क्वायर लेग दिशा में मैदान से बाहर छक्के के लिए भेज दिया। गेंद बाहर सड़क पर जा गिरी। एक आदमी सड़क पर गेंद को ले जाता हुआ भी नजर आया जिसका वीडियो बीसीसीआई द्वारा ट्वीट किया गया।

छठी गेंदः इस अंतिम गेंद पर धोनी 1 रन ही ले सके। लक्ष्य नामुमकिन हो चला था इसलिए बड़ा शॉट खेलने से भी फायदा ना होता। चेन्नई ने ये मैच 16 रन से गंवा दिया लेकिन वे धोनी के दम पर 200 के आंकड़े तक तो पहुंच गए, जिससे उनका कुछ तो मनोबल जरूर बढ़ा होगा।

ये है उनके छक्के का वीडियो

बेशक धोनी के छक्कों की तारीफ हो रही है। उन्होंने 17 गेंदों पर नाबाद 29 रनों की पारी खेली। लेकिन सोशल मीडिया पर उनकी आलोचना भी हुई कि वो इससे कुछ ओवर पहले तक ऐसे शॉट्स खेलने की कोशिश भी नहीं कर रहे थे, क्योंकि अगर वो उस समय ऐसा दम दिखाते तो उनकी टीम जीत सकती थी। खैर सोशल मीडिया पर भी धोनी के आलोचकों की फेहरिस्त उतनी लंबी नहीं दिखी जितने उनके फैंस हैं।